September 30, 2020

कारवाई या खानापूर्ति माइनिंग विभाग ने 10 क्रशर किये सील

ब्लाक माजरी में अलग अलग क्रशरों व स्क्रीनिंग प्लाटो पर लगाई गयी सील।

गांव अभिपुर के लोगो को करोडो रुपये का लगाया जुर्माना
जगदीश सिंह कुराली:  ब्लाक माजरी में कोई भी सरकारी खड्ड नहीं है जिस में से कच्चा माल निकाल क्रशरों पर रेत बजरी अलग की जाये फिर भी ब्लाक माजरी में स्थित क्रशरों पर दिन रात कच्ची मिटटी में से रेत बजरी को क्रशरों के माध्यम से सरेआम अलग किया जा रहा है। इस क्षेत्र में माइनिंग माफिया भी काफी सरगर्म रहता है और यहां आज भी नाजायज तोर पर अवैध माइनिंग करते हुए माइनिंग माफिया के लोग बडे आराम से नजर आ जाते है पर राजीनीति से सवंधित होने के कारण इनको हाथ डालने में सरकार के अफसर भी अपने आप को बोना साबित कर देते है पर मीडिया जब इस बडी समस्या को समय समय पर उजागर करती है तब दफ्तरों में एसी की हवा खा रहे अधिकारी भी दफ्तर से बाहर क्षेत्र में अपनी हलचल दिखाते है। बेशक इस क्षेत्र के लोग इस वक्त ओवरलोड टिप्परों से परेशान होकर गांव मियांपुर चंगर में पक्का धरना लगा कर बैठ चुके है तो अब सरकारी तंत्र भी कारवाई के मूड में आ गया है। डिप्टी कमशीनर मोहाली के हुक्मो के बदौलत कार्यकारी एंजीनियर कम जिला माइनिंग अफसर मोहाली,वातावरण इंजिनियर पीपीसीबी मोहाली,उप मंडल मजिस्ट्रेट खरड व् उप कप्तान पुलिस द्वारा बनाई टीम ने अनरजिस्टर्ड, 10 क्रशरों को बीते दिन सील किया गया है ।आज इन 10 क्रशरों को सील करने के लिए कार्यकारी एंजीनियर कम जिला माइनिंग अफसर मोहाली गुरप्रीत पाल सिंह संधू ,उप मंडल अफसर कम सहायक जिला माइनिंग अफसर यादविंदर सिंह ,माइनिंग इंस्पेक्टर मोहाली गुरजीत सिंह,माइनिंग अफसर मोहाली आकाश बंसल,नायब तहसीलदार माजरी जसकरण बराड ,सहायक वातावरण एंजीनियर हरसिमरन सिंह,सहायक वातावरण एंजीनियर अफसर खरड रवदीप सिंह जगजीत सिंह एसएचओ माजरी ने मिलकर मियांपुर चंगर में स्थित गुरतेज स्क्रीनिंग प्लांट व् सहज स्क्रीनिंग प्लांट,गांव अभिपुर में कैप्टन स्क्रीनंग प्लांट,लुबानगढ में जय माता स्क्रीनिंग प्लांट,व् जसपाल स्क्रीनिंग प्लांट,बाबा नियु बुध दास स्क्रीनिंग प्लांट हरनाम पूरा ,श्री श्री साई स्क्रीनिंग प्लांट कुब्बाहेडी,फ्रेंड्स स्क्रीनिंग प्लांट सियालबा,नियु चंडीगढ स्क्रीनिंग प्लांट मानकपुर शरीफ,ढिलो स्क्रीनिंग प्लांट सलेमपुर खुर्द को सील किया गया है इस से पहले भी बीते एक साल पहले भी ब्लाक माजरी के 29 क्रशरों को सील करने की कारवाई जिला मुखी की और से अम्ल में लायी गयी थी पर उसके कुछ समय बाद धीरे धीरे कर क्रशरों की सील खोल दी गयी थी समाज सेवी जसपाल खिजरावाद व् समाजसेवी राणा ओम पाल ने पत्रकारों को बताया कि जब पिछली बार 29 क्रशरों को सील किया गया था तो इन में से भी कई क्रशर सील किये गए थे जिनको सील किया गया था। उन्हें कहा कि जब क्रशरों के कागजात पुरे नहीं थे तो उनकी सील कैसे खुली। उन्होंने इस कारवाई को भी सिर्फ खानापूर्ति बताते हुए कहा कि कुछ दिन बाद इन क्रशरों की सील भी खुल जाएगी क्योकि यह इस लिए किया गया तांकि लोग क्रशर माफिया के खिलाफ आवाज बुलंद करने लगे है।
माइनिंग विभाग ने अवैध माइनिंग पर 10.77 करोड लगाया जुर्माना
ब्लाक माजरी क्षेत्र में चल रही माइनिंग पर सरकार की और से इस बार बडा वार किया गया माइनिंग विभाग ने कारवाई करते हुए गांव अभिपुर ग्राम पंचायत को 10 करोड 77 लाख 62 हजार 441 रुपए का जुर्माना किया है। इसी गांव के निवासी सुच्चा सिंह पुत्र गुरदेव सिंह को 1 करोड 45 लाख 21 हजार एवं हरनेक सिंह पुत्र गुरदेव सिंह को 1 करोड 65 लाख 95 हजार रुपए का नोटिस भेज जुर्माना कर इन्हे 1 महीने के अंदर राशि जमा करवाने के भी हुक्म किये गए है। जिस से इनकी होश उड गए है । इसके साथ ही माइनिंग विभाग ने 54 और गाँवो के लोगो को भी लाखो रुपए का जुर्माना किया है। जिस से अवैध माइनिंग के खिलाफ आवाज उठाने वाले समाजसेवियों में खुशी है उन्होंने इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि डिप्टी कमिशनर मोहाली को इनकम टेक्स विभाग को लिखित नोटिस जारी कर क्रशर कारोबार व् स्क्रीनिंग प्लांट कारोबार से जुडे वयक्तियो की जायदात की जाँच करवाने की भी मांग की है कि वह कैसे शामलात जमीनों में से मिटटी बेच सोना बना रहे है और अपनी जायदात में बढोतरी कर रहे है इस पुरे मामले की निषपक्ष जाँच हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *