‘प्रभ आसरा’ संस्था में 6 लावारिसों को मिली शरण

संस्था में दाखिल किये गए नागरिको की फाइल फोटो।

जगदीश सिंह कुराली : शहर की हद में पडते गांव पडियाला में लावारिस लोगों की सेवा संभाल कर रही ‘प्रभ आसरा’ संस्था में 6 ओर लावारिस नागरिको को शरण मिली है। संस्था की मुख्य प्रबंधक बीबी रजिन्दर कौर पडियाला ने बताया कि एक 40-45 साल की औरत जो कि अपना नाम पता बताने मे असमर्थ थी गाँव फतेहपुर में लावारिस हालत में घूम रही थी। गाँव वासियो ने इसकी हालत को देखते हुए सोचा कि इस के साथ कोई घटना न घटित हो जाये । उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी और पुलिस ने इलाज के लिए ‘प्रभ आसरा’ कुराली में दाखिल करवा दिया। इसी तरह रशीद (35) साल जो कि मानसिक रोग से पीडित होने के कारण कुछ दिनों से आईटीआई रोपड के पास लावारिस हालत में घूम रहा था। कुछ समाजदरदी सज्जनो की तरफ से संस्था में दाखिल करवाया गया। निखिल (30) मानसिक रोग से पीडित होने के कारण धनौरी गाँव में किसी के घर जा घुसा। गाँव के सरपंच ने मोरिंडा पुलिस की मदद के साथ उसको संस्था में दाखिल करवाया। पवन (50) को जीएमसीएच 32 चण्डीगढ़ की तरफ से इसके वारिसों का कुछ पता न होने के कारण इसको प्राथमिक इलाज के बाद सेवा संभाल के लिए संस्था में दाखिल करवाया गया। गंगा (70) और मरियम (75) जो कि मानसिक और शरीरिक पक्ष से बहुत ही कमजोर और लाचार थे। उन को समाजदरदी सज्जनो की तरफ से इलाज के लिए सिविल अस्पताल मोहाली में दाखिल करवाया गया । अस्पताल में इन की देखभाल करने वाला कोई न होने के कारण डीएलएसए मोहाली की तरफ से इन को सेवा-संभाल और इलाज के लिए ‘प्रभ आसरा’ में दाखिल करवाया गया। इन सम्बन्धित बातचीत करते हुए संस्था की प्रबंधक बीबी रजिन्दर कौर ने बताया कि दाखिले के बाद इन की सेवा संभाल और इलाज शुरू कर दिया गया है। उन्होंने सब से अपील की कि उक्त गुमशुदा नागरिकों बारे में किसी को कोई भी जानकारी मिले तो वह तुरंत संस्था के प्रबंधकों के साथ संपर्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *