रयात बाहरा यूनिवर्सिटी लाईफ़ साईंस विभाग की तरफ से विद्यार्थियों का तीन दिवसीय मसूरी ऐजुकेशनल ट्रिप्प

मसूरी ऐजुकेशनल ट्रिप्प दौरान मौजूद फेकल्टी सदस्यों के साथ विद्यार्थियों की एक यादगारी तस्वीर

जगदीश सिंह कुराली :रयात बाहरा यूनिवर्सिटी लाईफ़ सार्ईंस विभाग की तरफ से विद्यार्थियों में बोटनी की अकादमिक धारणाओं को बढ़ाने के लिए विद्यार्थियों का तीन दिवसीय मसूरी ऐजुकेशनल ट्रिप्प लगाया गया। इस सम्बन्धित जानकारी देते लाईफ़ सार्ईंस विभाग के प्रमुख डा. सिमरजीत कौर ने बताया कि एमएससी और बीएससी पाठ्क्रम के अंतर्गत विद्यार्थियों ने क्षेत्र की वनस्पती और वातावरण को जानने के लिए मसूरी का दौरा किया।
इस दौरान विद्यार्थियों के साथ लाईफ़ सार्ईंस विभाग के फेकल्टी मैंबर डा. अमिता महाजन, डा. संजीव सान्याल, डा. सरोज प्रधान, एलिस सीखन, सरबजीत कौर मौजूद थे ऐजुकेशनल ट्रिप्प मौके विद्यार्थियों ने हरबीरियम के भंडारन और प्रयोगशाला की जांच के लिए वातावरण के संतुलन को भंग किये बिना अलग अलग किस्मों के पौद्यों के नमूने एकत्रित किए । विद्यार्थियों की तरफ से प्रयोगशाला में सूक्ष्म जाँच के लिए ऐलगल नमूने भी एकत्रित किए गए और डा. अमिता महाजन ने विद्यार्थियों को पौद्यों में प्रजनन के अलग अलग ढंगों और क्षेत्र के वनस्पती की पहचान के नुक्ते भी बताए। इस मौके विद्यार्थियों को बढ़ रही आबादी, शहरीकरण और उद्योगीकरण के कारण वातावरण प्रणालियों को होने वाले खतरों से भी जानकार करवाया गया और वातावरण की संभाल में उनकी भूमिका बारे विद्यार्थियों को संवेदनशील भी किया गया। उन्होंने वातावरण और कुदरती स्रोतों की रक्षा के लिए अलग -अलग मापदंड बारे विचार विमर्श भी किये। विद्यार्थियों को सथाईयता के संकल्प का पालन करने के लिए मार्ग दशर््ान भी किया गया, जिससे आने वाली पीढीयों के लिए भी इन स्रोतों को सुरक्षित रखा जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.