Wed. Jan 22nd, 2020

खुले में कचरा फेंकने वाले लोगों के काटे चालान

शंकर यादव, मोगा : शहर में सफाई व कचरे के नाम पर चल रहे बड़े गैंग को नेस्तनाबूत करने के लिए अब निगम कमिश्नर अनीता दर्शी खुद डंडा लेकर सड़कों पर निकली हैं। कड़ाके की सर्दी के बीच सुबह शहर में बिना किसी को सूचना दिए निरीक्षण पर निकलीं निगम कमिश्नर अनीता दर्शी ने सिचाई विभाग के निरीक्षण गृह के बाहर रेहड़ियों में लादकर कचरा फेंकने वाले दो और लोगों को रंगे हाथों पकड़कर उन पर पांच-पांच हजार रुपये का जुर्माना मौके पर ही किया। इससे पहले भी एक निगम मुलाजिम सहित चार लोगों को 20 हजार रुपये का जुर्माना किया जा चुका है।
शहर में घरों से कचरा कलेक्शन करने वाली ठेकेदार कंपनी के बीच में ही काम छोड़ जाने के बाद शहर में लंबे समय से निजी स्तर पर एक बड़ा गैंग कचरा कलेक्शन का काम कर रहा है। घरों से कचरा कलेक्शन के नाम पर मनमाने ढंग से पैसे वसूल किए जाते हैं, ये पैसे निगम के खाते में जाने की बजाय कुछ लोगों की जेबों में चले जाते हैं बाद में दिन में ये कचरा शहर में विभिन्न स्थानों पर फेंक दिया जाता है, जिससे पूरे शहर वासियों को कचरा उठाने के पैसे देने के बावजूद कूड़े से होकर ही निकलना पड़ता था। पिछले महीने नगर निगम हाउस की 17 दिसंबर को हुई बैठक में स्वच्छता अभियान के नोडल अधिकारी एक्सईएन नछत्तर सिंह ने पूरे शहर के निरीक्षण में पाया था कि सिर्फ दो लोग ही झाड़ू लगाते मिले थे। निगम के सीवरेज विभाग के कुछ लोगों के सहयोग से ही ये गैंग संचालित किया जा रहा है, जिसके चलते निगम हर रोज कचरा प्रबंधन पर लाखों रुपये खर्च कर रही थी, मोटी राशि चंद लोगों की जेब में जा रही थी। निगम कमिश्नर के बार-बार कहने के बावजूद शहर में स्वच्छता के मामले में किसी प्रकार का बदलाव नजर नहीं आ रहा था, जिसके चलते अब वे खुद ही बिना किसी को बताए सुबह-सुबह शहर में निरीक्षण पर निकल रही हैं।

पिट्स में ही फेंके कचरा : अनीता दर्शी
निगम कमिश्नर अनीता दर्शी ने साफ कहा है कि जो लोग भी घरों से कचरा उठा रहे हैं वे सीधे निगम की पिट्स में ही कचरा फेंकें। निगम की गाड़ी जाने के बाद खुले में किसी को भी कचरा फेंकते देख लिया तो मौके पर ही जुर्माना होगा, ये अभियान लगातार जारी रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *