September 28, 2020

कम्युनिटी सेंटर में थाना शिफ्ट करने पर गर्माई सियायत, निगम ने बुलाई आपात बैठक

शंकर यादव, मोगा : कम्युनिटी सेंटर में थाना साउथ सिटी तब्दील करने का मुद्दा गरमा गया है। पूर्व मंत्री जत्थेदार तोतासिंह भी इस मुद्दे को लेकर सोमवार को डिप्टी कमिश्नर से मिले। पता चला है कि द पंजाब रेक्यूजीशन ऑफ इममूवेवल प्रॉपर्टी एक्ट को गंभीरता से न लिए जाने के कारण मामले ने तूल पकड़ा।निगम की ओर से नोटिस का सही जवाब न देने के कारण बग्गेयाना छप्पड़ पर बने कम्युनिटी सेंटर में अस्थायी रूप से थाना साउथ सिटी शिफ्ट करने के आदेश डीसी संदीप हंस ने कर दिए थे। सोमवार को पूर्व कैबिनेट मंत्री जत्थेदार तोता सिंह, मेयर अक्षित जैन व क्षेत्रीय पार्षद गुरमिदरजीत सिंह बबलू ने डीसी को पूरे तथ्यों से अवगत कराया, इसके बाद डीसी ने एक बार फिर निगम को मौका दिया है कि वह पूरे तथ्यों से अवगत कराएं, उसके बाद वे अपना फैसला देंगे कि थाने को कम्युनिटी सेंटर में शिफ्ट किया जाए या नहीं। निगम ने इस मामले में हाउस की आपात बैठक 30 जनवरी को बुलाई है।जत्थेदार तोतासिंह ने डीसी को अवगत कराया कि निगम ने आठ अगस्त 2019 को बुक्कनवाला रोड के निकट एक एकड़ जगह थाने के लिए देने का प्रस्ताव पास कर दिया है। बग्गेयाना छप्पड़ में बने कम्युनिटी सेंटर में एससी समाज के लोग शादी विवाह व अन्य धार्मिक कार्यक्रम करते हैं, ऐसे में उनके लिए काफी मुश्किल हो जाएगी, दूसरी बात कम्युनिटी सेंटर के रूप में एक छोटा हॉल है जिसमें थाना संभव ही नहीं है। डीसी संदीप हंस ये तथ्य देखकर हैरान थे, क्योंकि उन्होंने आज से दो महीने पहले नगर निगम को द पंजाब रिक्यूजीशन ऑफ इममूवेवल प्रॉपर्टी एक्ट के तहत नोटिस जारी करते हुए कहा था कि कम्युनिटी सेंटर को थाना साउथ सिटी को अस्थायी रूप से दिया जाना है। किसी पक्ष को आपत्ति हो तो वह 15 दिन में आपत्ति कर सकता है, लेकिन इस पत्र के जबाव में डीसी के समक्ष किसी प्रकार की न तो आपत्ति दी गई न ही ये बताया गया था कि निगम थाने के लिए पहले ही जमीन किसी अन्य स्थान पर अलॉट कर चुकी है। इसके बाद डीसी ने कम्युनिटी सेंटर में थाना शिफ्ट करने के आदेश जारी कर दिए थे। नियमानुसार 15 दिन के नोटिस के बाद एक महीने की अवधि बीतने पर डीसी को अधिकार हैं कि वे सुरक्षा बल के सहयोग से सरकारी कार्य के लिए जमीन पर कब्जा दिला सकते हैं।

डीसी ने निगम को दिया एक और मौका

सभी तथ्यों को देखने के बाद डीसी ने निगम को एक मौका दिया है कि वे सभी तथ्य लिखित में उनके समक्ष पेश करें, उसके बाद वे अपना अगला फैसला देंगे। निगम ने इस मुद्दे पर निगम हाउस की आपात बैठक 30 जनवरी को बुलाई है। इस बैठक में कम्युनिटी सेंटर को थाने में शिफ्ट करने या न करने के मुद्दा लाया जाएगा। हाउस का जो भी फैसला होगा, उससे डीसी को अवगत कराया जाएगा। उसके बाद डीसी फैसला करेंगे कि थाना साउथ सिटी के लिए कम्युनिटी सेंटर दिया जाय या नहीं। कम्यूनिटी सेंटर में शुरू किए पाठ

23 जनवरी को पुलिस ने थाने को शिफ्ट करने के लिए कम्युनिटी सेंटर की चाबी मांगी तो क्षेत्रीय लोगों ने कम्युनिटी सेंटर में थाना शिफ्ट करने का विरोध शुरू कर दिया था। 24 जनवरी से कम्युनिटी सेंटर में सहज पाठ के भोग शुरू कर दिए गए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *